बाहें

बढ़ती राहों में रोकती बाहें |
ठहरी राहों से बुलाती बाहें |
कुछ राहों पर धकेलती बाहें |
कुछ राहों पर साथ चलती बाहें |

अनजान राहों पर राह दिखाती बाहें |
मुश्किल राहों में बचती बाहें |
रात को सुलाती बाहें |
दिन में जगाती बाहें |

राहों और बाँहों का अजब साथ है |
राहों के साथ शरीर बदलती बाहें |

 

Photo credits to Murad Osmann

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s